Cricket / indian

gauravchaudhary
मैच फिक्सिंग को लेकर फूटा आईसीसी का गुस्सा, कहा-भारतीयों की वजह से...
H फॉलो करें बीते दिनों आईसीसी की एंटी करप्‍शन यूनिट ने एक प्रेस रिलीज जारी कर श्रीलंका के पूर्व दिग्‍गज बल्‍लेबाज सनथ जयसूर्या को भ्रष्‍टाचार की विभिन्‍न धाराओं के तहत आरोपी बनाए जाने की जानकारी दी. इस मामले में जयसूर्या को आईसीसी ने 14 दिन का समय अपना जवाब दाखिल करने के लिए दिया है. हालांकि उनपर सीधे भ्रष्‍टाचार के आरोप न होकर ऐसे मामलों में जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप है. आईसीसी की एंटी करप्‍शन यूनिट के प्रमुख एलेक्‍स मार्शल इन दिनों श्रीलंका में ही मौजूद हैं. उन्‍होंने ईएसपीएन क्रिकइनफो से बातचीत के दौरान कई चौकाने वाले खुलासे किए. उन्‍होंने कहा कि श्रीलंका क्रिकेट में काफी गहराई तक भ्रष्‍टाचार फैला हुआ है. श्रीलंका में लोकल लोगों के अलावा भारतीय बुकी काफी सक्रिय हैं. अगर पूरी दुनिया में क्रिकेट में भ्रष्‍टाचार की बात की जाए तो भारतीय मूल के बुकी ही सबसे ज्‍यादा गलत गतिविधियों में लिप्‍त है. एलेक्‍स मार्शल ने कहा कि मैं और मेरी टीम इस भ्रष्‍टाचार पर परत दर परत खुलासे करने के लिए ही श्रीलंका में हैं. किसी भी व्‍यक्ति या खिलाड़ी का नाम लिए बिना उन्‍होंने कहा कि इस मामले में आने वाले दिनों में कई बड़े नाम सामने आ सकते हैं. हमारे पास श्रीलंका क्रिकेट में भ्रष्‍टाचार की लगातार शिकायतें आ रही थी, जिसमें सिस्‍टम में भ्रष्‍टाचार के सुबूत मिले है. जिसके बाद हमने इसपर काम करना शुरू किया. एलेक्‍स मार्शल ने कहा, ”श्रीलंका ऐसा देश है जहां पिछले 12 महीने में हमने सबसे ज्‍यादा जांच की है. इस लिस्‍ट में दूसरे नंबर पर जिम्‍बाब्‍वे है। हमारी नजर में क्रिकेट में भ्रष्‍टाचार संगठित अपराध की तरह है, जिसके कारण युवा क्रिकेटरों का भविष्‍य प्रभावित हो रहा है.
0.00
1
0
More posts are coming soon. Write your own!